Connect with us

हूँ जिस हाल में – अजय प्रसाद

हूँ जिस हाल में ,या खुदा न रहा करे कोई
मेरे हक़ मे खुदा के लिए न दुआ करे कोई ।

आखरी लम्हे तक कोशिशें रहेंगी जारी यूँही
हूँ जिस तरह से नाकाम न हुआ करे कोई ।

ज़ख्म देकर वो खुश रहे तो कुछ बात बने
मगर इतनी बेरूखी से तो न दवा करे कोई ।

वफ़ा के नाम से ही सहम जाये जेहनो बदन
इतनी बेरहमी से दोस्तों न दगा करे कोई ।

हो सकी न हसरतें कभी हक़ीक़त में तब्दील
कीमत ख्वाबों की अजय न अदा करे कोई ।

अजय प्रसाद

Facebook Comments
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Trending