Connect with us

हौसलों से होगी जीत – सुखविंद्र सिंह मनसीरत

हौसलों से होगी जीत


हौसलें होंगे गर मजबूत तो तेरी जीत होगी
बहे पसीने के हों सबूत,तो जीत तेरी होगी

देखना,कदमों के नीचे होगी तुम्हारी मंजिल
निश्चय जो दृढ़ संकल्पित,तो जीत तेरी जीत

जल मत,जिद्द कर,सदैव ही आगे बढ़ने की
गाओगे विजय श्री गीत,तो जीत तेरी होगी

गर गिर जाओगे बीच , तो संभलना सीखना
संभल कर जाओगे जीत,तो जीत तेरी होगी

छोड़ना मत पथ, चाहे पग जाएं कभी थक
हो के अथक बनोगे मीत,तो जीत तेरी होगी

सागर की लहरों संग बहना जाओगे सीख
गंतव्य से कर लोगे प्रीत,तो जीत तेरी होगी

निरंतर अभ्यास और प्रयास से मिलते लक्ष्य
रहना तुम सदा प्रयासरत,तो जीत तेरी होगी

मिली विफलताओं से ले लेना तुम तालीम
असफलताओं से ले मत,तो जीत तेरी होगी

मेहनतकश लोगो की मेहनत न जाती व्यर्थ
रख सब्र,चलेगा दिनरात,तो जीत तेरी होगी

मनसीरत बन हौसलामंद से चल रहा डगर
मन में विश्वास न आघात,तो जीत तेरी होगी


सुखविंद्र सिंह मनसीरत
खेड़ी राओ वाली (कैथल)

Facebook Comments
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Trending